Tally learn by read

Tally in Hindi, Tally ki complete Course is blog me. Tally Erp9, Tally Complete Course in Hindi With Example, Tally GST, Now you can learn by reading Tally Erp9, Tally Course with example, Tally Online free learn,

Types of Vouchers in Tally in hindi टैली में वाउचर के प्रकार इन टैली इन हिंदी

Types of Vouchers in Tally in hindi  टैली में वाउचर के प्रकार इन टैली इन हिंदी 

वाउचर का यूस टैली में एंट्री पास करने के लिए किया जाता है। अलग-अलग वाउचर में अलग-अलग प्रकार के एंट्रीया की जाती है। आई ये इसे समझते हैं।   

1.      Contra voucher (F4)

2.      Payment voucher(F5)

3.      Receipt voucher(F6)

4.      Journal voucher(F7)

5.      Sales voucher(F8)

6.      Sales order(Alt+F5)

7.      Purchase voucher(F9)

8.      Purchase order(Alt+F4)

9.      Debit note voucher(Ctrl+F9)

10.  Credit note voucher(Ctrl+F8)

11.  Memo voucher(Ctrl+F10)

 

1) Contra voucher (F4) :- contra voucher का प्रयोग (tally) फण्ड ट्रांसफर के लिए करते हैं Contra voucher में बैंक ये बैंक के बीच हुई ट्रांजक्शन का रिकाॅर्ड करते है इसमें हम कैश और बैंक के ट्रांजक्शन की एंट्री करते है
Example:- बैंक में 3000  जमा किये  ( 3000 Cash deposit to bank )   
          बैंक में 5000 जमा किये   (50000 Cash deposit to bank)
          बैंक से 15000 निकाले  ( 15000 withdraw from bank)
          बैंक मे चेक जमा किया/प्राप्त किया ( cheque deposit into bank/receive from bank)
              

2) Payment voucher (F5) :- इस वाउचर का प्रयोग पेमेंट भुगतान से सम्बंधित है इसमें सभी प्रकार के लेन देन का एंट्री किया जाता है। चाहे वह भुगतान चेक, कैश या बैंक के माध्यम से किया गया हों।
Example :- जैसे किसी पार्टी को पेमेंट किया।
                             किसी वर्कर को सैलरी दिया।
                             बिल्ंिडग का रेंट दिया।

3) Receipt voucher (F6) :- का प्रयोग जब कोई पेमेंट हमारे कंपनी को रिसीव हुआ हो तो उसकी टैली में एंट्री इस वाउचर में करते है चाहे वह पेमेंट हमारे बैंक मे हुआ हो, कैश से, या किसी पार्टी ने पेमेंट किया हो। जब हमारे बिज़नेस मे पैसा आये चाहे वो कैश से, चेक से या आॅनलाइन आया हो। 
Example :-       संदीप से 6000 प्राप्त हुआ।
                                   श्याम से 1500 कमीशन प्राप्त हुआ।

4) Journal voucher (F7) :- एक तरह का  adjustment voucher होता है जिसके जरिये हम टैली में  aadjustment entry को  Post करते है इसका प्रयोग सामान्य एंट्री  के लिए भी किया जाता है।
Example :-    जैसे  Drawing / Donation/
                                 Any adjustment entry

5) Sales voucher (F8) :- सेल्स वाउचर का प्रयोग सेल्स से सम्बंधित सभी लेन देन मे करते है चाहे वह नगद हो या उधार हो sales voucher  मे एंट्री करेंगे।
Example :-   1500 का समान बेचा 
                           सूरेश को फर्नीचर बेचा
            संजय को समान बेचा 
6) Purchase voucher(F9):- परचेस वाउचर का उपयोग सिर्फ Purchase से सम्बंधित सभी लेन देन मे करते है। चाहे नगद हो या उधार हो सभी का एंट्री इसमे करते है।
    Example :- goods purchase

 

7) Credit notes voucher (Ctrl+F8) :- जब कभी कोई customer किसी वजह से माल को वापसी करते है मतलब की जब भी sales return होती है तो इन सभी entries के लिए हम credit notes का use करते है इसके अलावा माल पर दी गई छूट की एंट्री करने के लिए भी इसका उपयोग करते है इस वाउचर का प्रयोग करने के लिए पहले इसे एक्टिवेट करना पड़ता है इसके लिए  f11 key दबाकर use debit note/credit note option को yes  करना पड़ता है।
        Example :- बिका हुआ समान की वापसी
                           बिके हुऐ समान पर 10% discount
8) Debit note voucher (Ctrl+F9) ;- इस वाउचर का प्रयोग टैली में Purchase return से सम्बंधित एंट्री करने के लिए करते किया जाता है इसके अलावा माल पर प्राप्त छूट की एंट्री करने के लिए भी इसका प्रयोग किया जाता है।

  Example:- [kjhnk gqvk lkeku dh okilh
             [kjhns gq, lkeku ij 10% discount feyk

 

9) Memo voucher (Ctrl+F10) :- यह एक नाॅन वाउचर है इसका प्रयोग टैली में याददाश्त से सम्बंधित एंट्री करने के लिए किया जाता है इस वाउचर पर की गई एंट्री का प्रभाव किसी स्टेटमेंट पर नही पड़ता है।

Example :- अडवांस मे सैलेरी दिया वर्कर को  advance salary given to employee.
                   आॅफिस के खर्चे।     Office expenses.
                     शिवा सिन्हा को समान दिया।  Goods given to shiva sinha

 

10)Purchase order ((Altr+F4) :- जब हमें अपने बिज़नेस के लिए किसी सामान की जरूरत होती है तो हमे पार्टी को सामान खरीदने का आॅर्डर एडवांस मे भेजते है उसे purchase order मे एंट्री करते है। और जब भेजा गया आॅर्डर का सामान हमारे पास आ जाता है तो उसे हम purchase voucher  मे एंट्री कर लेते है।
Example:-   सभी एडवांस आॅर्डर

 

11)Sales Order (Alt+F5) :- जो सामने वाले का Purchase order है वो हमारे लिए सेल्स का आॅर्डर होगा। जैसे, जब कोई पार्टी अपने लिए सामान खरीदने के लिए आॅर्डर करेगा तो उसका Purchase order को हम अपने tally sales order voucher  मे एंट्री करेंगे।

hटैली में मेरे दोस्त अगर आपको कोई डाउट या आपका कोई सवाल हो तो आप हमे नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट लिख कर हमे भेज सकते है  और आपको हमारा पोस्ट कैसा लगा ये भी  बताये और आपको टैली से रिलेटेड जो भी सीखना हो या सवाल हो बता सकते है हम उसे भी आपको  ऐसी ही डिटेल से समझायेंगे                      धन्यवाद्